Khatu Shyam APP

Article

गणेश चतुर्थी: जानें कैसे करें गणपति जी को प्रसन्न!

माता पार्वती और भगवान शंकर के पुत्र गणेश जी प्रथम पूज्य देव हैं, और अब गणेश महोत्सव यानि कि उनको प्रसन्न करने का उत्सव शुरू हो गया है जो की पूरे दस दिन तक चलता है। किन्तु उन्हें किस प्रकार प्रसन्न किया जाये ये प्रश्न ज़रूर सबके मन में उठता है, क्योकि साधारण मनुष्य पूजा पाठ पूर्ण विधि विधान से नहीं कर पता और कोई त्रुटि होने की भी सम्भावना बनी रहती है, इसलिए बप्पा को प्रसन्न करने के लिए हम आपको बताने जा रहे है उनकी सबसे ज़्यादा प्रिय वस्तुएं जो उन्हें प्रसन्न कर देंगी-

1.) मोदक : बप्पा को मोदक सबसे अधिक प्रिय हैं, उन्हें इसकी मिठास और स्वाद अत्यंत लुभाता है। और वैसे भी गणपति जी मोटे पेट वाले हैं, जिसके कारण उन्हें लम्बोदर भी कहते हैं, उन्हें भोग लगाना अत्यंत आवश्यक है। और भोग में उनके पसंदीदा मोदक हों तो वे आसानी से प्रसन्न हो जायँगे। वैसे उन्हें अन्य मिष्ठनों का भी भोग लगता है जैसे बूंदी के लड्डू, बेसन के लड्डू आदि किन्तु जो बात मोदकों में है वो किसी और में नहीं।

यह भी पढ़े :  गणेश महोत्सव: आखिर क्यों विसर्जित करते हैं गणेश जी को पानी में​

भक्ति दर्शन एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें।

2.) दूर्वा घास : दूर्वा घास एक औषधि की तरह काम करती है, अनेक पशु भी इसे स्वतः खाते हैं। एक बार एक असुर से पृथ्वी को बचाने के लिए गणेश जी ने उसे निगल लिया था, किन्तु उसे निगलते ही उनके पेट में जलन होने लगी। उनकी जलन शांत करने के लिए ऋषि कश्यप ने उन्हें 21 दूर्वा खाने को दी और उसे खा कर उनकी जलन शांत हो गयी। तभी से गणेश जी को दूर्वा प्रिय हो गयी, और इसीलिए गणेश जी को 21 दूर्वा चढाने का नियम शास्त्रों में दिया गया है।

3.) पीले पुष्प : प्रत्येक भगवानों को अलग अलग रंग के पुष्प भाते हैं, शास्त्रों में भी उनके अनुसार ही पुष्प चढाने का नियम बताया गया है। जैसे माता दुर्गा को लाल पुष्प, शिवजी को श्वेत पुष्प वैसे ही गणपति जी को पीले पुष्प अत्यंत प्रिय हैं। आप उन्हें गेंदे के फूल, पीला गुलाब, तथा पीले डहेलिया के फूल चढ़ा सकते हैं।

भक्ति दर्शन के नए अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर फॉलो करे

4.) केला : जैसा की हम जानते हैं गणेश जी को खाने से कितनी प्रसन्नता मिलती है, इसलिए उनकी पसंद में मोदक के अलावा एक और फल शामिल है जो उनके पसंदीदा रंग यानि की पीले रंग का है। वह फल है केला, गणेश जी को केला चढ़ाना अत्यंत शुभ माना जाता है।

तो इन वस्तुओं को आप पूरे भक्ति भाव से गणेश जी को चढ़ाएं और उनको प्रसन्न करें। गणपति बप्पा मोरया।

संबंधित लेख :​